Header Ads

Current Affairs in Hindi में विभिन्न परीक्षाओं के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण Current Affairs को सम्मिलित किया जाता है । यह पोस्ट UPPSC, MPPSC, UPSC, SSC, UPSSSC, Banking और विभिन्न Competitive Exams के लिए समग्र रूप से उपयोगी है । इस पोस्ट के अंतर्गत आज 15 April 2020 के हिंदी करेंट अफेयर्स में शामिल हैं -
  1.  COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने “सप्तपदी” लॉन्च किया
  2.  UNIDO और CUTS, मिलकर कोरोना के आर्थिक संकट से लड़ेंगे 
  3.  भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल अशोक देसाई का निधन
  4.  पूर्व केंद्रीय मंत्री एम.वी. राजशेखरन का निधन
  5.  आधुनिक इराकी वास्तुकला के जनक "रिफत चदिरजी" का निधन
  6.  World Chagas Disease Day : 14 April 
  7.  आईआईटी बॉम्बे ने बनाया डिजिटल स्टेथोस्कोप "AyuSynk" 
  8.  अटल नवाचार मिशन, नीति आयोग और NIC ने मिलकर "CollabCAD" सॉफ्टवेर लॉन्च किया 
  9.  विज्ञान संचार पहल "कोविडज्ञान" का हुआ शुभारंभ
  10.  केरल में COVID-19 उपचार के लिए प्लाज्मा थेरेपी का ट्रायल हुआ आरंभ
  11.  यस बैंक ने मैक्स लाइफ इंश्योरेंस के साथ अपनी व्यपारिक साझेदारी का किया विस्तार
  12.  विश्व बैंक ने जारी की "साउथ एशिया इकनोमिक फोकस" रिपोर्ट
  13.  ऋषिकेश के एम्स में स्थापित की गई भारत की पहली दूरस्थ स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली
  14.  पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने एचडीएफसी में बढ़ाई अपनी हिस्सेदारी
  15.  यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के नए कार्यकारी निदेशक बने बिरुपाक्ष मिश्रा

Current Affairs in Hindi - 15 April 2020


1. COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने “सप्तपदी” लॉन्च किया

14 अप्रैल, 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने COVID-19 के खिलाफ लड़ने के लिए “सप्तपदी” का शुभारंभ किया। कोरोनावायरस से लड़ने के लिए सप्तपदी सात मंत्र हैं। यह 7 मंत्र इस प्रकार हैं :
  1. वरिष्ठ नागरिकों और बुजुर्गों की विशेष देखभाल करनी चाहिए
  2. सोशल डिस्टेंसिंग और लॉक डाउन नियमों का कड़ाई से पालन किया जाना चाहिए
  3. आयुष मंत्रालय द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के आधार पर नागरिकों को अपनी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देना चाहिए
  4. उन्होंने “आरोग्य सेतु” मोबाइल एप्लिकेशन डाउनलोड करने का सुझाव दिया है
  5. जरूरतमंदों और गरीबों को आश्रय और भोजन प्रदान करें
  6. सहकर्मियों के प्रति अनुकंपा और भुगतान कटौती तथा नौकरी कटौती से बचें
  7. डॉक्टरों, नर्सों और स्वच्छता कार्यकर्ता जैसे स्वास्थ्य पेशेवरों के प्रति सम्मान दिखाना



2. UNIDO और CUTS, मिलकर कोरोना के आर्थिक संकट से लड़ेंगे

हाल ही में, संयुक्त राष्ट्र औद्योगिक विकास संगठन (UNIDO) और उपभोक्ता एकता और ट्रस्ट सोसायटी (CUTS) ने कोरोना महामारी के कारण विश्व मे उत्पन्न आर्थिक संकट से लड़ने के लिए समझौता किया है । ये समझौता 5 साल के लिए वैध है, जिसका उद्देश्य 2030 के सतत विकास लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सक्रिय गतिविधियों का समर्थन करने के लिए संयुक्त तकनीकी सहयोग पहल शुरू करना है। इसके अंतर्गत, CUTS ई-कॉमर्स का सहयोग डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए सदस्य देशों के संक्र्रांति (बदलाव) को तेज करने और चौथी औद्योगिक क्रांति के अनुकूल बनाने के लिए एक मंच के रूप में करेगा।




3. भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल अशोक देसाई का निधन

भारत के पूर्व अटॉर्नी जनरल और वरिष्ठ अधिवक्ता अशोक देसाई का निधन हो गया । वह जुलाई 1996 से मई 1998 तक भारत के अटॉर्नी जनरल रहे थे । उन्होंने दिसंबर 1989 से दिसंबर 1990 तक भारत के सॉलिसिटर जनरल के रूप में कार्य भी किया था। उन्हें 2001 में पद्म भूषण और कानून पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। उन्होंने 1956 में बॉम्बे हाई कोर्ट से वकालत शुरू की और अगस्त 1977 में उन्हें वरिष्ठ अधिवक्ता के रूप में नामित किया गया था।


Read also: Current Affairs 2020 in Hindi


4. पूर्व केंद्रीय मंत्री एम.वी. राजशेखरन का निधन

पूर्व केंद्रीय मंत्री और दिग्गज कांग्रेस नेता एम.वी. राजशेखरन का निधन हो गया । उन्होंने मनमोहन सिंह सरकार में योजना आयोग में केंद्रीय राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया था। वे लोकसभा में कर्नाटक निर्वाचन क्षेत्र की कनकपुरा सीट का प्रतिनिधित्व करते थे।



5. आधुनिक इराकी वास्तुकला के जनक "रिफत चदिरजी" का निधन

आधुनिक इराक की वास्तुकला के जनक रिफत चदिरजी का COVID-19 के कारण निधन हो गया । उन्हें इराक की सबसे महत्वपूर्ण संरचनाओं और प्रतिष्ठित "स्वतंत्रता स्मारक" (Freedom Monument), "ताहिर स्क्वायर" डिजाइन करने का श्रेय दिया गया था। वे लंदन में अपनी पढ़ाई पूरी कर 1950 के दशक में इराक में वापस आए और अपनी प्रसिद्ध रचना, "द अननोन सोल्जर" सहित राजधानी के डाकघर और अन्य सार्वजनिक भवनों को डिजाइन किया।




6. World Chagas Disease Day : 14 April

चगास एक प्रकार का संक्रामक रोग है, जो कीड़ों द्वारा फैलता है । इस बीमारी का नाम डॉ कार्लोस जस्टिनियानो रिबेरो चगास के नाम पर रखा गया है। उन्होंने 14 अप्रैल 1909 को ब्राजील में इस बीमारी के पहले रोगी का उपचार किया था। चगास एक संक्रामक रोग जो ट्रियाटोमाइन कीट के मल में पाए जाने वाले परजीवी की वजह से होता है । चागस रोग उन स्थानों पर सामान्य है जहां ट्रिएटोमाइन कीड़ा ट्राइपानोसोमा क्रूज़ी परजीवी फैलाता है। यह एक हल्का रोग है जिसमें सूजन और बुखार हो सकता है, जो लंबे समय तक भी चल सकता है। इस रोग के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए हर साल 14 अप्रैल को विश्व चगास रोग दिवस मनाया जाता है ।



Test Yourself: Current Affairs Objective Questions


7. आईआईटी बॉम्बे ने बनाया डिजिटल स्टेथोस्कोप "AyuSynk"

आईआईटी- बॉम्बे ने COVID -19 संक्रमित मरीजों की जांच के लिए "AyuSynk" नामक एक नया डिजिटल स्टेथोस्कोप विकसित किया है। आईआईटी बॉम्बे ने सामान्य स्टेथोस्कोप को डिजिटल स्टेथोस्कोप में परिवर्तित कर दिया है। सामान्य स्टेथोस्कोप से कोरोनो वायरस रोगियों की देखभाल करने वाले स्वास्थ्य पेशेवरों को संक्रमण का खतरा बने रहने के मद्देनजर इसे विकसित किया है।

डिवाइस को रिमोट औस्कुल्टेशन (धड़कन सुनने) के लिए विकसित किया जा रहा है। इस डिजिटल स्टेथोस्कोप को तार या ब्लूटूथ के माध्यम से मोबाइल या लैपटॉप से भी जोड़ा जा सकता है। AyuSynk डिजिटल डिवाइस को IIT बॉम्बे के स्टार्टअप, Ayu Devices द्वारा बायोमेडिकल इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी ऊष्मायन केंद्र (BETiC) के सहयोग से  विकसित किया गया है।




8. अटल नवाचार मिशन, नीति आयोग और NIC ने मिलकर "CollabCAD" सॉफ्टवेर लॉन्च किया

अटल नवाचार मिशन, नीति आयोग और राष्‍ट्रीय सूचना विज्ञान केंद्र (एनआईसी) ने संयुक्‍त रूप से एक Collaborative CAD (CollabCAD) नामक सॉफ्टवेर लॉन्च किया है। CollabCAD सहयोगी नेटवर्क, एक कंप्यूटर सक्षम सॉफ़्टवेयर सिस्टम है, जो 2डी ड्राफ्टिंग एंड डिटेलिंग से 3डी प्रोडक्‍ट डिजाइन करने वाला एक समग्र इंजीनियरिंग समाधान है। इस पहल का उद्देश्य देश भर में अटल टिंकरिंग लैबोरेटरीज़ (एटीएल) के छात्रों को रचनात्मकता और कल्पना के मुक्त प्रवाह के साथ 3 डी डिजाइन बनाने और संशोधित करने के लिए एक शानदार मंच प्रदान करना है ।

यह भी पढ़ें : करेंट अफेयर्स मार्च 2020

9. विज्ञान संचार पहल "कोविडज्ञान" का हुआ शुभारंभ

टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ फंडामेंटल रिसर्च (TIFR), इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस (IISc), और टाटा मेमोरियल सेंटर (TMC) द्वारा "कोविडज्ञान" (CovidGyan) पहल शुरू की गई है। यह एक बहु-संस्थागत, बहु-भाषी विज्ञान संचार पहल है जिसे COVID-19 महामारी के वैज्ञानिक और तथ्यात्मक पहलुओं को सार्वजनिक डोमेन में लाने के लिए शुरू किया गया है।
कोविडज्ञान एक हब है जो COVID-19 प्रकोप से निपटने में भारत में जन समर्थित अनुसंधान संस्थानों और संबंधित कार्यक्रमों के माध्यम से उत्पन्न संग्रह को एक साथ लाने के लिए काम करता है। COVID-19 से प्राप्त सामग्री, रोग और इसके संचरण की सर्वोत्तम उपलब्ध वैज्ञानिक समझ पर निर्भर करती है। इसमें शामिल विषयों में नावल करोनावायरस (सार्स-कोवी-2) का शुद्ध व्यवहार से लेकर कोरोना फ्लू की संचरण गतिशीलता और इसके खिलाफ लड़ाई को आगे बढ़ाना है।





10. केरल में COVID-19 उपचार के लिए प्लाज्मा थेरेपी का ट्रायल हुआ आरंभ

केरल COVID-19 उपचार के लिए प्लाज्मा थेरेपी का क्लिनिकल ट्रायल शुरू करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है । इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) ने केरल के तिरुवनंतपुरम में स्थित श्री चित्रा तिरुनल इंस्टीट्यूट फॉर मेडिकल साइंसेस एंड टेक्नोलॉजी (SCTIMST) को प्लाज्मा थेरेपी उपचार के लिए क्लिनिकल ट्रायल को शुरू करने की मंजूरी दे दी है। प्लाज्मा थेरेपी, COVID-19 यानि कोरोनावायरस से पूरी तरह से ठीक चुके रोगियों के प्लाज्मा को लेने की एक तकनीक है, इसमें ठीक हो चुके मरीज में एंटीबॉडीज बड़े पैमाने पर पाए जाते हैं और इस खून से प्लाज्मा को निकालकर इन्हें एंटीबॉडीज कोरोना से जूझ रहे किसी अन्य मरीज में ट्रान्सफ्यूज किया जा सकेगा, जो उस बीमार मरीज के इम्यून सिस्टम को बूस्ट करेगा और वह बेहतर तरीके से वायरस से लड़ सकेगा। हाल में किए गए कुछ अध्ययनों से पता चला है कि चीन ने भी इसी तकनीक का सहारा कोरोना को ख़त्म करने के लिए किया था और वहीँ दूसरी ओर संयुक्त राज्य अमेरिका ने भी प्लाज्मा थेरेपी तकनीक का ट्रायल शुरू कर दिया है।


यह भी पढ़ें : करेंट अफेयर्स फरवरी 2020


11. यस बैंक ने मैक्स लाइफ इंश्योरेंस के साथ अपनी व्यपारिक साझेदारी का किया विस्तार

यस बैंक ने मैक्स लाइफ इंश्योरेंस के साथ अपने व्यापारिक संबंधों को बढ़ाने की घोषणा की है। ग्राहकों को आसान अनुभव प्रदान करने और जरूरत-आधारित उत्पादों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला की पेशकश करने के लिए डिजिटली-सक्षम पारिस्थितिकी तंत्र के निर्माण में निवेश करने की प्रतिबद्धता के लिए करार को अगले 5 सालों के लिए बढ़ाया गया है। विस्तारित व्यापारिक संबंधों का उद्देश्य व्यवसाय को बढ़ाना और प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नए उत्पाद लाने के साथ-साथ ग्राहक संबंधित सेवाओं में निवेश करना है।



12. विश्व बैंक ने जारी की "साउथ एशिया इकनोमिक फोकस" रिपोर्ट

विश्व बैंक ने "साउथ एशिया इकनोमिक फोकस" शीर्षक एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट में साउथ रीजन के आठ देशों में तीव्र आर्थिक गिरावट का अनुमान लगाया गया है। आर्थिक गतिविधियों में गिरावट, व्यापार में गिरावट और वित्तीय एवं बैंकिंग क्षेत्रों में अधिक तनाव सहित तीव्र आर्थिक गिरावट का कारण COVID-19 महामारी के परिणामों को बताया गया है। रिपोर्ट में बताया गया है कि साल 2020 में रीजनल ग्रोथ 1.8% से 2.8% के बीच गिरावट की संभावना है, जो कुछ महीने पहले अनुमानित 6.3%  से काफी कम है। रिपोर्ट के अनुसार, मालदीव के सबसे ज्यादा प्रभावित होने का अनुमान है, जिसके बाद श्रीलंका, पाकिस्तान और अफगानिस्तान है। इन सूचीबद्ध देशों में, पूर्वानुमान पूरी तरह नकारात्मक होने की संभावना है। वित्त वर्ष 2020-2021 में भारत की अर्थव्यवस्था 1.5% से 2.8% की दर से बढ़ने की संभावना जताई गई है।


13. ऋषिकेश के एम्स में स्थापित की गई भारत की पहली दूरस्थ स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली

ऋषिकेश के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) ने BHEL (भारत हेवी इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड) के साथ मिलकर भारत का पहला दूरस्थ हेल्थ मॉनिटरिंग सिस्टम स्थापित किया है। उत्तराखंड राज्य में COVID-19 रोगियों की निगरानी के लिए इस प्रणाली का इस्तेमाल किया जाना है। रिमोट स्वास्थ्य निगरानी प्रणाली डॉक्टरों को दूर रहकर रोगियों के शरीर का तापमान और ऑक्सीजन की निगरानी करने में सक्षम बनाएगा । एक वेबसाइट और मोबाइल एप्लिकेशन को भी सिस्टम के एक हिस्से के रूप में विकसित किया गया है । मरीज इन संसाधनों का उपयोग करके डॉक्टरों को घर पर बैठे ही अपनी बीमारी के बारे में सूचित कर सकते हैं। COVID-19 के संदिग्ध होने पर सिस्टम मरीजों को निगरानी किट भी प्रदान करता है । वर्तमान में इस प्रणाली का इस्तेमाल दुनिया के अन्य हिस्सों में हेमोडायलिसिस के रोगियों की निगरानी के लिए किया जा रहा है ।




14. पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना ने एचडीएफसी में बढ़ाई अपनी हिस्सेदारी

पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना (PBOC) ने हाउसिंग डेवलपमेंट फाइनेंस कारपोरेशन लिमिटेड (HDFC) में अपनी हिस्सेदारी 0.8% से बढ़ाकर 1.01% कर दी है। हिस्सेदारी बढ़ाने की प्रक्रिया सेकेंडरी मार्केट लेनदेन के रूप में की गई। देश में निजी क्षेत्र के सबसे बड़े मोर्गेज ऋणदाता एचडीएफसी में PBOC के 17.49 मिलियन शेयर शामिल हैं। इस लेन-देन के बाद, एचडीएफसी में पीपुल्स बैंक ऑफ चाइना की हिस्सेदारी की कीमत 2,976 करोड़ रुपये की हो गई है।




15. यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के नए कार्यकारी निदेशक बने बिरुपाक्ष मिश्रा

हाल ही में बिरुपाक्ष मिश्रा को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का नया कार्यकारी निदेशक बनाया गया है । 1 अप्रैल से कॉर्पोरेशन बैंक और आंध्रा बैंक का विलय यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया में हो गया है । इस विलय के बाद, कॉर्पोरेशन बैंक के कार्यकारी निदेशक बिरुपाक्ष मिश्रा को यूनियन बैंक ऑफ इंडिया का नया कार्यकारी निदेशक बनाया गया है ।








Post a Comment

Previous Post Next Post